GSSY - Guru Siyag's Siddha Yoga
लेटेस्ट अपडेट्स
और देखें..

      

लेटेस्ट अपडेट्स

      

- प्रतिवर्ष Avsk जोधपुर आश्रम से संबधित कार्यक्रमों का आयोजन

      

             - गुरु पूर्णिमा महोत्सव

   

             - अवतरण दिवस

   

             - बरसी पर्व

   

- गुरुदेव की दिव्य लेखनी से.....

      

             - गुरु क्या है?

   

             - शक्तिपात - दीक्षा क्या है ?

   

             - संसार का हर परिवर्तन पूर्व निश्चित है।

   

             - धर्म क्या है ?

   

             - जाति पाति पूछे ना कोई, हरि को भजै सो हरि का होई।

   

             - भारत में आध्यात्मिक जागृति

   

             - विश्व को सच्ची शान्ति और आनन्द भारत से ही मिलेगा।

   

             - आध्यात्मिक चेतना कैसे फैलती है ?

   

             - नाम खुमारी एक सच्चाई है ।

   

             - ‘‘मंत्र शक्ति’’ पर इस युग के मानव का विश्वास क्यों खत्म हुआ ?

   

             - मात्र सनातन धर्म ही विश्व शांति का रक्षक

   

             - आध्यात्मिक-ज्ञान प्राप्ति का समय भी युवावस्था

   

             - सिद्धियाँ

   

             - आध्यात्मिक सत्संग

   

             - यह सम्पूर्ण संसार एक ही परमसत्ता का विस्तृत स्वरूप है।

   

             - मोक्ष की प्राप्ति केवल कृष्ण उपासना से ही सम्भव है।

   

             - सात्विक आराधना का फल कभी नष्ट नहीं होता।

   

             - अध्यात्म विज्ञान और भौतिक विज्ञान

   

             - आध्यात्मिक जीवन का मतलब भौतिक संसार से विरक्ति नहीं

   

             - भारत की स्थिति

   

             - "धन-शक्ति"

   

             - धर्म सम्पूर्ण विश्व से लोप प्रायः हो चुका है।

   

             - भारत का भविष्य

   

             - ​​​​​​​शक्ति के अवतरण के खतरों से 'गुरु''रक्षा करता है।

   

             - आराधना का जवाब क्यों नहीं मिलता?

   

             - मेरी प्रत्यक्षानुभूति के अनुसार परम सत्ता तक पहुँचने का रास्ता।

   

             - सनातन धर्म के मतानुसार संसार की उत्पत्ति को प्रमाणित करना सम्भव है।

   

             - शरीर को कष्ट देना,आसुरी वृत्ति का कार्य है।

   

             - सारा संसार उस एक ही परमसत्ता का विस्तार है।

   

             - संसार का हर प्राणी ईश्वर कृपा का अधिकारी है।

   

             - युग परिवर्तन का अर्थ संसार के प्राणी मात्र के परिवर्तन से है।

   

- कुण्डलिनी जागरण

      

- गुरुदेव सियाग सिद्धयोग द्वारा विश्व शांति